भोपाल में 5 भाजपा और 2 कांग्रेसी जीते ..

प्रदेश की राजधानी भोपाल की सभी सात सीटों के नतीजे आ गए हैं। 5 भाजपा और 2 कांग्रेस ने जीती हैं। गोविंदपुरा से भाजपा प्रत्याशी कृष्णा गौर ने 1 लाख 6 हजार 335 मतों से सबसे बड़ी जीत दर्ज की। उन्होंने कांग्रेस उम्मीदवार रविंद्र साहू को हराया। इसके साथ ही गोविंदपुरा सीट से दूसरी बार विधायक चुनी गई हैं। उनके ससुर बाबूलाल गौर इसी सीट से आठ बार विधायक रह चुके हैं। हुजूर से भाजपा प्रत्याशी रामेश्वर शर्मा 97910 वोट से जीत दर्ज की ….

इसके साथ ही भोपाल को उत्तर और दक्षिण-पश्चिम से दो नए चेहरे विधायक के रूप में मिले हैं। कांग्रेस प्रत्याशी एवं पूर्व मंत्री आरिफ अकील के बेटे आतिफ अकील अपने पिता के विधानसभा क्षेत्र भोपाल उत्तर से पहली बार विधायक चुने गए हैं। उधर, दक्षिण-पश्चिम सीट भाजपा ने कांग्रेस से छीन ली है। यहां से भाजपा प्रत्याशी भगवान दास सबनानी जीत दर्ज की है।

भोपाल उत्तर से कांग्रेस प्रत्याशी आतिफ अकील ने भाजपा के आलोक शर्मा को 27086 मतों से पराजित किया। मध्य से कांग्रेस प्रत्याशी आरिफ मसूद ने भाजपा के ध्रुवनारायण सिंह को 16233 मतों से शिकस्त दी है। नरेला से बीजेपी के विश्वास सारंग ने कांग्रेस के मनोज शुक्ला को 24199 मतों से पराजित किया है। बैरसिया सीट से भाजपा के विष्णु खत्री ने कांग्रेस की जयश्री हरिकिरण को 25397 मतों से पराजित किया। हुजूर से भाजपा प्रत्याशी रामेश्वर शर्मा ने कांग्रेस के नरेश ज्ञानचंदानी को 97910 मतों से पराजित किया है। वे पिछली बार 15625 वोटों से जीते थे। दक्षिण-पश्चिम से भाजपा के भगवान दास सबनानी ने जीत दर्ज की है। कांग्रेस के पीसी शर्मा चुनाव हार गए हैं।

विधानसभा मुकाबला जीते :- 1- भोपाल उत्तर आतिफ अकील कांग्रेस,आलोक शर्मा भाजपा,आतिफ अकील 27086 जीते ,2- भोपाल दक्षिण-पश्चिम पीसी शर्मा कांग्रेस से भगवानदास सबनानी 16000 से जीते , 3- नरेला मनोज शुक्ला(कांग्रेस)/विश्वास सारंग (भाजपा) विश्वास सारंग 24199 से जीते , 4- बैरसिया जयश्री हरिकरण (कांग्रेस)/ विष्णु खत्री भाजपा के 25397 से जीते , 5- भोपाल मध्य आरिफ मसूद (कांग्रेस)/ध्रुवनारायण सिंह (भाजपा) आरिफ मसूद 16233 से जीते , 6- गोविंदपुरा रवींद्र साहू (कांग्रेस)/कृष्णा गौर (भाजपा) कृष्णा गौर 106335 से जीतीं , 7- हुजूर नरेश ज्ञानचंदानी (कांग्रेस)/रामेश्वर शर्मा (भाजपा) रामेश्वर शर्मा 97910 से जीते

भाजपा दफ्तर से सीएम हाउस तक नेताओं की लगी रही आवाजाही

सुबह से नेताओं की भाजपा दफ्तर से सीएम हाउस तक आवाजाही बनी हुई है। पूरा दिन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, नरेंद्र सिंह तोमर सीएम हाउस में काउंटिंग का अपडेट लेते रहें। प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, प्रदेश संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा और केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव पहले भाजपा दफ्तर पहुंचे। फिर सीएम हाउस जाकर मुख्यमंत्री से मिले। बाद में भाजपा नेता पं. दीनदयाल उपाध्याय और श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने गए।

कृष्णा गौर बोलीं- यह जीत लाड़ली बहनों का संकल्प ..

गोविंदपुरा सीट से भाजपा उम्मीदवार कृष्णा गौर ने अपनी जीत को लाड़ली बहनों का संकल्प बताया। कहा- प्रचंड बहुमत की सरकार बनी है। लाड़ली बहनों ने यह संकल्प ले लिया था कि मप्र में भाजपा की सरकार बनाना है। जीत पर हुजूर सीट से भाजपा प्रत्याशी रामेश्वर शर्मा बोले- हमें इसी प्रचंड बहुमत की उम्मीद थी।

बैरसिया के भाजपा उम्मीदवार विष्णु खत्री ने जीत के बाद कहा- लाड़ली बहनाओं का हृदय से धन्यवाद।

दक्षिण पश्चिम से प्रत्याशी भगवान दास सबनानी ने कहा- भाजपा सरकार और संगठन को जनता का आशीर्वाद मिला है। भोपाल उत्तर सीट से विजयी होने पर आतिफ अकील ने कहा- सभी ने मुझे सपोर्ट किया। अब मैं पुराने शहर का और बेहतर विकास करूंगा।

नरेला के कांग्रेस प्रत्याशी मनोज शुक्ला ने कहा- जनता का फैसला सिर आंखों पर,

पिछले विधानसभा चुनाव में भोपाल की 7 में से 4 बीजेपी और 3 पर कांग्रेस ने जीत हासिल की थी। बीजेपी ने नरेला, हुजूर, बैरसिया और गोविंदपुरा सीटें जीती थीं, जबकि भोपाल उत्तर, भोपाल मध्य और दक्षिण-पश्चिम सीटों पर कांग्रेस ने जीत हासिल की थी। पिछले चुनाव में एकमात्र महिला प्रत्याशी कृष्णा गौर गोविंदपुरा से विधायक चुनी गई थीं

सुबह रुझान आने के कुछ देर बाद कांग्रेस कार्यालय में सन्नाटा पसर गया

PCC में कमलनाथ ने की लीगल टीम से चर्चा :- सुबह 8 बजे काउंटिंग शुरू होते ही प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ, दिग्विजय सिंह, सांसद विवेक तन्खा ने लीगल टीम से चर्चा की। कांग्रेस के राज्यसभा सांसद विवेक तंखा ने कहा- जिस तरीके के परिणाम आए उनसे हम संतुष्ट नहीं है। जिस तरह का माहौल दिख रहा था उसके अनुरुप परिणाम नहीं है। हम आगे आकलन करेंगे।