नई दिल्ली. दिल्ली के रामलीला मैदान में चल रहे सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे का अनशन पूरे सात दिन बाद कल खत्म हो गया. ऐसे में आंदोलन खत्म होने के बाद उनके मंच से भाषण दे रहे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर किसी ने जूता फेंक दिया. बताया जा रहा है कि फड़नवीस पर जूता एक किसान द्वारा फेंका गया. बता दें अन्ना किसानों की परेशानी और लोकपाल से जुड़ी मांगों को लेकर पिछले सात दिनों से अनशन पर बैठे हुए थे. ऐसे में उनके अनशन में कई किसान भी पहुंचे हुए थे.

        किसानों ने चेतावनी दी थी कि अगर गुरुवार तक उनकी मांगे नहीं मानी गई तो वे खुद को आग लगा लेंगे. बता दें कि महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फड़नवीस रामलीला मैदान में सरकार का संदेश लेकर पहुंचे थे कि सरकार ने अन्ना की मांगें मान ली हैं और अब वे अपना अनशन खोल दें. फड़नवीस ने अन्ना को जूस पिलाकर उनका अनशन खुलवाया. इस दौरान उनके साथ केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत भी मौजूद थे. बता दें कि 23 मार्च से अनशन पर बैठे अन्ना हजारे की भूख हड़ताल का कल  सातवां दिन था.

इस घटना से पहले वहां मौजूद गांव वालों ने रालेगण सिद्धि में केंद्र और महाराष्ट्र सरकार के प्रति अपना गुस्सा जाहिर किया था. उनका कहना था कि राज्य और केंद्र सरकार अन्ना हजारे की उपेक्षित कर रही है. साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि गांव से सभी सरकारी कर्मचारियों और पुलिस बल को निकाल दिया गया है.