भाजपा को इसका खामियाजा उठाना पड़ सकता है ?

छिंदवाड़ा // आगामी अप्रेल माह से ई-अटेंडेंस को लागू करने के फैसले को लेकर जिले के समस्त शिक्षक वर्ग में गहरा असंतोष व्याप्त हो गया है। शिवराज सरकार के इस बड़े निर्णय के खिलाफ आदिवासी अंचल के शिक्षकों में गहरी नाराजगी का असर यह देखा जा रहा है कि उन्होंने लामबंद होकर प्रदेश सरकार के इस फैसले के खिलाफ विरोध करने का बड़ा फैसला लिया है।
इस संबंध में आज शिक्षकों ने लामबंद होकर विरोध जताते हुए माननीय मुख्यमंत्री मध्य प्रदेश शासन के नाम एक ज्ञापन सौंपा जिसमें जिले भर से हजारों शिक्षक मौजूद थे

ज्ञापन में शिक्षकों ने ई -अटेंडेंस का कड़ा विरोध करते हुए विभिन्न मांगों को लेकर रखी है जिसमें उन्होंने कहा कि अटेंडेंस व्यवस्था और समानताकारी है यह केवल शिक्षा विभाग एवं आदिम जाति कल्याण विभाग में कार्यरत कर्मचारी अधिकारियों पर ही लागू की जा रही है अन्य विभागों में नहीं जो प्राकृतिक न्याय के विरुद्ध है। उन्होंने आगे कहा कि ई -अटेंडेंस लगाने हेतु नेट कनेक्शन की आवश्यकता होती है शासन द्वारा प्रतिमाह नेट पैक में होने वाली राशि उपलब्ध नहीं करवाई है ना ही इसका कोई प्रावधान रखा गया है मांगों को लेकर कड़ा विरोध जताया है। प्रदेश सरकार के इस तुगलकी फैसले को लेकर आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा को इसका खामियाजा उठाना पड़ सकता है ?

Share News

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.