नकली नक्सली पकड़ाया….

 सिवनी जिले में फर्जी नक्सली बनकर नागपुर-जबलपुर हाईवे में फोरलेन निर्माण कार्य कर रही कंपनी से 1 करोड़ रूपए की फिरौती मांगने वाला आरोपी युवक को पुलिस ने धर दबोचा है। पुलिस युवक को खवासा-पीपरवानी रिड्डीटेक के पास से पकड़ा है। आरोपी युवक के संबंध में जानकारी देते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमलेश खरपुसे ने प्रेस वार्ता में बताया कि आरोपी युवक नीतेश पिता सुखदास परते 24 वर्ष बालाघाट जिले के तिरोड़ी थाना अंतर्गत पौनिया गांव का रहने वाला है …………सिवनी से फिरोज पंडित की रिपोर्ट 

आरोपी युवक ने 2 दिन पहले फोरलेन निर्माण कंपनी के एक कर्मचारी को एक बंद लिफाफे में 1 करोड़ रूपए की फिरौती मांगने वाला धमकी भरा पत्र दिया था ,जिसमे रुपये न देने पर निर्माणाधीन पुल उड़ाने की धमकी थी । फोरलेन निर्माण कंपनी के कर्मचारियों द्वारा कुरई थाने में मामला दर्ज कराने के बाद से जिले की पुलिस हरकत में आई,चूंकि मामला नक्सली धमकी से जुड़ा हुआ था इसलिए पुलिस ने इसे बेहद गंभीरता से लिया और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमलेश खरपुसे ने 2 अलग-अलग टीम तैयार की जो अज्ञात आरोपी की तलाश में जुट गई। फर्जी नक्सली बने आरोपी युवक ने दूसरे दिन फोरलेन निर्माण कंपनी के कर्मचारी के मोबाईल पर सुबह 10 बजे कॉल किया। और रूपए लेकर अलग-अलग स्थानों पर आने के लिये कहा,इस पर पुलिस टीम ने तत्परता से कार्यवाही करते हुए अज्ञात आरोपी की जंगल के रास्ते में घेराबंदी किया और उसे पकड़ लिया। आरोपी के पास से पुलिस ने 2 मोबाईल, 4 सिम कार्ड और एक बीएसएफ का आईडी कार्ड भी जप्त किया है। आरोपी युवक मोटरसाईकिल से अकेला ही फिरौती की रकम मांगने के लिये आया था। पूछताछ में आरोपी ने स्वयं को पूर्व में बीएसएफ की 101 बटालियन दिल्ली में आरक्षक (ड्राईवर) के पद पर होना बताया। साथ ही संदिग्ध आचरण के चलते उसे बीएसएफ द्वारा बर्खास्त किये जाने की बात भी बताई है। पूछताछ में यह बात भी सामने आयी की वह नकली नक्सली बन पैसे वसूलने की कोशिश कर रहा था ।

Share News

You May Also Like