भाजपा व मोदी की लोकप्रियता में कमी , 42% लोगो की पसंद केजरीवाल

दिल्ली में विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता में गिरावट देखने को मिल रही है !दिल्ली के लोगों ने मुख्यमंत्री और आप पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना में अधिक पसंद किया है! लोकनीति व सीएस डीएस के सर्वे में जब मतदाताओं को चुनने के लिए कहा गया तो 42% लोगों ने केजरीवाल को पसंद किया जबकि 32% लोगों ने प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी को चुना !

हालांकि व्यक्तिगत लोकप्रियता के मामले में प्रधानमंत्री मोदी निश्चित रूप से दिल्ली के मतदाताओं के बीच लोकप्रिय 30% लोगों ने मजबूती के साथ कहा कि उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पसंद है पर जब तुलनात्मक तौर पर पूछा गया तो अरविंद केजरीवाल प्रधानमंत्री मोदी से आगे निकल गए ! यह सर्वेक्षण राष्ट्रीय स्तर पर राजनीति के बजाय दिल्ली के बारे में था इसलिए जब मतदाताओं को चुनने के लिए कहा गया तो 42% लोगों ने केजरीवाल को मोदी के ऊपर चुनाव सर्वे 22 नवंबर से 3 दिसंबर की दिल्ली की 23 विधानसभा क्षेत्रों की 115 जगहों पर किया गया !इस दौरान 2298 मतदाताओं की राय ली सर्वे के मुताबिक सरकार ने के कामकाज से अधिकांश दिल्ली वाले संतुष्ट हैं कुल 53 फ़ीसदी लोगों ने केजरीवाल सरकार के काम पर खुशी जताई सर्वे में 10 में से 9 मतदाताओं ने केजरीवाल सरकार के कामकाज पर संतोष जाहिर किया जबकि एक ने उस पर असंतोष जताया ! अधिकांश मतदाताओं ने अरविंद केजरीवाल सरकार द्वारा शिक्षा, चिकित्सा और ट्रांसपोर्ट में किए गए कामों की खुले दिल से सराहना की !

सर्वे में कहा गया है कि 4 में से हर तीन लोग  मोदी सरकार के कामकाज भी खुश हैं लेकिन 20 फ़ीसदी लोगों ने बेरोजगारी ,महंगाई और आर्थिक मोर्चों पर केंद्र सरकार की विफलताओं पर नाराजगी जाहिर की , लोगो  का कहना था कि चुनाव में यह भी मुद्दे हुए मोदी सरकार के परफारमेंस को 40 फ़ीसदी वोटरों ने ही पसंद किया ,जो अब तक का सबसे कमतर प्रदर्शन है !

ज्ञात हो कि चुनाव से ऐन पहले भारतीय जनता पार्टी की अगुवाई वाली केंद्र सरकार ने दिल्ली की करीब 17 अवैध कालोनियों को वैध करने का ऐलान किया ! लोकसभा में अवैध कॉलोनी को वैध दर्जा देने वाले बिल के पारित होने से पहले किया गया है! संभव है कि वह इसे लेकर चुनावों से पहले सोच में बदलाव हो फरवरी 2020 में विधानसभा चुनाव दिल्ली में होने हैं ।

Share News

You May Also Like