शिवसेना को मिला सरकार बनाने का न्योता, शिवसेना को समर्थन के लिए रखी NDA छोड़ने की शर्त

अभी-अभी महाराष्ट्र की सियासत को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है,प्रदेश के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने भाजपा के बाद दूसरे सबसे बड़े दल शिवसेना को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया है. इसके साथ ही शरद पवार की एनसीपी ने शिवसेना से कहा है कि वह सरकार बनाने के लिए उनका समर्थन चाहते हैं तो वह पहले एनडीए से अपने सभी रिश्ते खत्म करें.

महाराष्ट्र में सियासी संकट गहरा गया है. राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने भाजपा के देवेंद्र फडणवीस को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया था. सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते भाजपा को यह न्योता दिया गया था लेकिन आज भाजपा नेताओं की कई राउंड की बैठक के बाद भी भाजपा कोई हल नहीं निकाल पाई. उन्होंने राज्यपाल को जानकारी दी कि हमारे पास नंबर नहीं है.

राज्यपाल ने दूसरे सबसे बड़े दल शिवसेना को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया है. एनसीपी नेता नवाब मलिक ने साफ किया है कि शिवसेना को सपोर्ट चाहिए तो उसे एनडीए से सारे रिश्ते तोड़ने होंगे. वहीं महाराष्ट्र कांग्रेस के विधायकों से आज वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने मुलाकात की. अब शिवसेना को बहुमत जुटाने के लिए कांग्रेस और एनसीपी दोनों का साथ चाहिए होगा.

वहीं एनसीपी के नेता नवाब मलिक ने कहा अगर गवर्नर शिवसेना को सरकार बनाने के लिए दावा करने के लिए आमंत्रित करते हैं तो हम अपने अगले कदम के बारे में सोचेंगे. अभी हमें शिवसेना से कोई प्रस्ताव नहीं मिला है और पवार साहब द्वारा घोषित अंतिम निर्णय कांग्रेस और एनसीपी मिलकर लेंगे. हमने 12 नवंबर को अपने विधायकों की बैठक बुलाई है………. साभार- मिडिया रिपोर्ट

Share News

You May Also Like