आदिवासी युवको की थाने मे हुई पिटाई….

खेत मे बकरी छोडने पौधे उखाडने की शिकायत पर आदीवासी युवको की थाने मे हुई पिटाई , आदिवासी युवको ने लगाया पिटाई के बाद 9 – 9 हजार रूपये लेने का आरोप , मारपीट कर जबरन अपराध कबूल करवाने वीडियो बनाने का मामला

छिंदवाडा/ तामिया  –  खेत मे पौधरोपण के बाद बकरी के घुसने और पेड उखाडने के बाद थाने मे दो आदीवासी युवको की पिटाई का मामला सामने आया है | मानव अधिकार हनन के मामले मे तामिया पुलिस थाना पहले भी सुर्खियो मे रहा है | तामिया टीआई द्वारा खेत मालिक के साथ थाने मे पिटाई को लेकर अब शिकवा शिकायतो का दौर शुरु हो गया है | दमुआ डब्लूसीएल मे कार्यरत मूलचंद सूर्यवंशी का तामिया मुख्यमार्ग मे आवास दुकान के साथ पाटन रोड के समीप खेत है वहा पर पौधरोपण के लिये पौधे मंगवाये थे | मूलचंद सूर्यवंशी की शिकायत पर पुलिस ने बस स्टैंड में पानठेला चलाने वाले पाटन रोड भरियाटोला निवासी 27 भवानी पिता रम्मू भारती तथा कमलेश पिता नन्हे भारती को थाने मे बुलाया था वही पाटन बस्ती के कमलेश पिता नन्हे मूलचंद के खेत के पहले बटाईदार होने की बात सामने आई है | टीआई कोमल दियावार पर दोनो युवको ने टीआई कक्ष मे पिटाई करने के बाद 9 हजार रूपये लेने का आरोप लगाया है …. नितिन दत्ता की रिपोर्ट

भवानी पिता रम्मू भारती ने बताया कि शनिवार के दिन बस स्टैंड मे पानठेला मे बैठा था उसके साथी कमलेश भारती ने उसे बताया कि उसे थाने मे बुलाया गया है थाने मे टीआई कक्ष मे घुसा तो उस समय सरपंच अनिल भारती पर्यटन संस्था प्रमुख पवन श्रीवास्तव तथा दमुआ मे डब्लूसीएल में पदस्थ मूलचंद सूर्यवंशी मौजूद थे मूलचंद सूर्यवंशी ने अपने खेत का वीडियो दिखाया और पूछा इसमे कौन महिला बकरी चरा रही है !

भवानी ने बताया कि उसकी पत्नी है इतना बोलते ही मूलचंद सूर्यवंशी ने युवक के हाथ पीछे से पकडे और टीआई ने लगातार दोनो कान में लगातार थप्पड मारे भवानी ने बताया कि अचानक मारपीट से घबराने के बाद उससे जबरन खेत से पेड उखाडना कबूल करवा कर मोबाइल मे वीडियो बनवाया गया | भवानी ने बताया कि मारपीट के बाद उसके कमलेश के साथ भी मारपीट की गई मारपीट के दौरान तामिया सरपंच वहा से चले गये इसके बाद टीआई ने नौ हजार रूपये देने नही तो प्रकरण बनाने की बात कही भवानी और कमलेशने बताया कि पवन श्रीवास्तव ने समझौता कराने के लिये पेड लगवाने की बात कही भवानी भारती ने बताया कि मारपीट से घबराहट के बाद थाने से घर पहुंचने के बाद किसी तरह से अपना दो बकरे बेच कर थाने में मूलचंद को 9 हजार दिये गये इसी तरह मारपीट के बाद कमलेश से भी 9 हजार मांगे गये |

भवानी ने बताया कि उसे मारपीट कर कबूल करवाया गया कि पेड उखाडे है वही खेत मे मात्र कुल 70 गडडो मे तीस में पौधे नही है मूलचंद ने दो सौ पेड उखाडने की शिकायत की है भवानी ने बताया कि उसे कुछ भी जनकारी नही थी जबरन थाने मे पिटाई की गई | खेत मे बकरी जब घुसी तब मूलचंद के लडके ने पत्थर मार कर बकरी की टांग तोड दी | वही पिटाई के दूसरे पिडित युवक कमलेश भारती ने बताया कि उसके पिता नन्हे भारती के साथ मूलचंद सूर्यवंशी के खेत के बटाई की चर्चा चल रही थी ट्रैक्टर की व्यवस्था नही होने से दूसरे को बटाई मे दे दिया कललेश ने इस सबंध मे रात्री मे मूलचंद को मोबाइल पर जानकारी लेने काल किया था उसे भी खेत मे पेड उखाड्ने के लिये थाने बुलाकर पिटाई की गयी
उस दौरान दोनो युवके के मोबाइल छुडाकर नीचे फेंक कर कुचला गया बाद 9 हजार रूपये मांगे गये | कमलेश के पिता नन्हे ने बताया कि वह भी साथ गये थे उन्हे टीआई ने बाहर कर दिया अंदर मारपीट के कारण उसके बेटे की आवाज आ रही थी | इस सबंध में दमुआ के डब्लूसीएल कर्मचारी मूलचंद सूर्यवंशी ने बताया कि गुरुवार के दिन तामिया मे उनके खेत प्लांटेशन वाले खेत में गुरुवार को भवानी भारती की पत्नी ने बकरिया छोड दी गई थी उसके बाद रात में दो साल पुराने पौधे उखाड दिये गये | कमलेश भारती ने शुक्रवार रात्री में फोन कर खेती बाडी के बारे मे पूछा था इसी से उन्हे शक हुआ दूसरे दिन थाने में भवानी और कमलेश की शिकायत दी गयी| पर्यावरण मुहिम से जुडे पवन श्रीवास्तव सरपंच अनिल भारती भी पहुंचे थे टीआई के सामने भवानी ने कबूल किया कि उसने पेड उखाडे है | युवको को पौधे का नुकसान भरने कहा गया था बाद मे भवानी ने थाने मे 9 हजार रूपये दिये कमलेश ने बाद मे देने कहा था | पवन श्रीवास्तव ने बताया कि पर्यावरण मुहिम से जुडे है युवको को पौधे लगवाकर देने के लिये समझाने थाने गये थे उन्हे मारपीट और रूपये लेनदेन की जानकारी नही है| सूत्रो की माने तो तामिया पुलिस थाने में दो आदीवासी युवको की पिटाई के ठीक एक दिन पहले भी एक मामले मे एक युवक की पिटाई की चर्चाये है |

विवादो मे है तामिया टीआई की कार्यप्रणाली – तामिया थाने में टीआई कोमल दियावार के पूर्व कार्यकाल नवंबर 2017 में बैंक आफ महाराष्ट्र के तत्कालीन प्रबंधक अमित शुक्ला को अवैध हिरासत मे रखने के मामले मे पहले ही राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग ने डीजीपी मध्यप्रदेश को नोटिस दिया था जिसकी जांच जारी है | इसी तरह पारिवारिक एक विवाद के मामले मे 16 सितंबर 2017 को पावर हाउस कालोनी निवासी युवक सिद्धार्थ बुनकर को अपने कक्ष मे बुलाकर तामिया टीआई कोमल दियावार थप्पड मारने का मामला तत्कालीन जिला पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी तक पहुंचा था| सिद्धार्थ बुनकर ने इस मामले की शिकायत भी तत्कालीन एसपी गौरव तिवारी से हुई थी || विधानसभा चुनाव के बाद दूसरी बार तामिया टीआई बने कोमल दियावार की कार्यप्रणाली पहले भी सुर्खियो में रही है| इसी साल 6 अप्रैल 2019 को एक पाव शहद के 120 रूपये नही देने को लेकर एसपी तक मामला पहुंचा था| वही आदीवासी भरिया समाज के दो युवको की पिटाई के मामले ने कई सवाल खडे कर दिये है वही भारिया विकास प्राधिकरण अध्यक्ष की दौढ मे शामिल तामिया सरपंच अनिल भारती खुद भरिया समाज के होने के बाद उनके सामने हुई इस घटना ने चर्चायो का बाजार गर्म कर दिया है पीडित युवक न्याय पाने गुहार लगा रहे है !

Share News

You May Also Like