शीघ्र नियमित होंगे अतिथिविद्वान- मंत्री पी सी शर्मा

अतिथि विद्वानों का संदेश मुख्यमंत्रीजी तक पहुँचाऊँगा- मंत्री प्रदीप जायसवाल
कांग्रेस पार्टी ने प्रदेश के कॉलेजों में कार्य कर रहे अतिथि विद्वानों को नियमितीकरण का वचन दिया है और माननीय मुख्यमंत्री कमलनाथ जी अवश्य इस वचन को पूरा करेंगे। उक्त उदगार मध्यप्रदेश शासन के विधि मंत्री पी सी शर्मा जी ने शाहजहांनी पार्क में अतिथि विद्वान नियमितीकरण संयुक्त संघर्ष मोर्चा के तत्वाधान में आयोजित वचन निभाओ स्मरण सभा में प्रदेश भर से आये लगभग साढ़े पांच हज़ार अतिथि विद्वानों के बीच कही।उन्होंने कहा कि अतिथि विद्वानों ने अपने जीवन के बहुमूल्य 25 वर्ष प्रदेश की उच्च शिक्षा को दिए हैं।

सरकार उनके इस त्याग को बेकार नही जाने देगी। मंत्री शर्मा ने कहा कि मैं सरकार का विधि मंत्री हूँ, आपके नियमितीकरण के सामने किसी भी तकनीकी खामी को नही आने दूंगा। कार्यक्रम में पधारे खनिज मंत्री प्रदीप जायसवाल गुड्डा भैया ने कहा कि अतिथि विद्वानों की मांग को मैं मुख्यमंत्री जी के समक्ष आगामी 5 जुलाई को होने वाली कैबिनेट बैठक में अवश्य रखूंगा। कांग्रेस की सरकार ने अतिथि विद्वानों को नियमित करने का वचन दिया है जिसे हर हाल में पूरा किया जाएगा। कार्यक्रम में पधारे निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह शेरा भैया ने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ वचनपत्र को पूरा करने हेतु संकल्पित है और उसे जल्द पूरा किया जाएगा। उन्होंने आगे कहा कि मैं अतिथि विद्वानों की समस्या को मुख्यमंत्री जी तक पहुँचाऊँगा।

उल्लेखनीय है कि विधायक शेरा भैया ने अतिथि विद्वानों की नियमितीकरण की मांग का पूर्व में भी समर्थन किया था। आज शाहजहांनी पार्क में अतिथि विद्वान नियमितीकरण संयुक्त संघर्ष मोर्चा द्वारा आयोजित इस वचन स्मरण कराओ सभा मे प्रदेश भर से भारी संख्या में प्रदेश भर से आये अतिथि विद्वानों ने एक स्वर में मध्य प्रदेश शासन से अपने नियमितीकरण की मांग रखी। मोर्चा के प्रदेश प्रवक्ता डॉ मंसूर अली ने बताया कि की सभा मे लगभग साढ़े पांच हज़ार अतिथि विद्वानों के साथ साथ अतिथि विद्वान नियमितीकरण संघर्ष मोर्चा के संयोजक डॉ देवराज सिंह, डॉ डी पी सिंह, डॉ के पी रजक, डॉ दोहरे डॉ रामकृष्ण तिवारी के साथ साथ कोर कमेटी के सभी वरिष्ठ साथी डॉ अमिताभ मिश्रा, डॉ अजब सिंह, डॉ सुरजीत सिंह, डॉ मंजू व्यास, डॉ सुषमा मिश्रा, डॉ जेपीएस चौहान, डॉ आशीष पांडेय, अजय त्रिपाठी मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन कोर कमेटी के वरिष्ठ सदस्य डॉ यशकुमार सिंह ने किया एवं आभार प्रदर्शन डॉ देवराज सिंह ने किया। कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान के साथ किया गया।

Share News

You May Also Like