महिला खिलाड़ी बनी कुंवारी मां….

राजधानी भोपाल में एक वॉटर स्पोर्टस एकेडमी में रहकर प्रैक्टिस करने वाली 19 साल की महिला खिलाड़ी के कुंवारी मां बनने के बाद हड़कम्प मच गया है. ज्ञात हो कि भोपाल के हॉस्टल में रहने वाली 19 साल की महिला खिलाड़ी को पेट में दर्द के बाद भोपाल के ज़िला अस्पताल ले जाया गया था जहां उसकी जांच के बाद डॉक्टरों ने पाया कि खिलाड़ी को 6 महीने का गर्भ है और इसके बाद महिला खिलाड़ी ने एक प्री-मैच्योर बच्ची को जन्म दिया था. जिस खिलाड़ी ने बच्ची को जन्म दिया उसने दो साल पहले 2017 में भोपाल की इस अकेडमी में दाखिला लिया था.

खेल विभाग के डायरेक्टर एसएल थाउसेन को सामने आना पड़ा. उन्होंने कहा कि ‘इस मामले में खिलाड़ी ने पुलिस से कोई शिकायत नहीं की है और कहा है कि उसने आपसी सहमति से शारीरिक संबंध बनाए थे. हालांकि थाउसेन ने कबूला कि एकेडमी में महिला वॉर्डन और कांउसलर भी कम हैं और 6 महीने से खिलाड़ी की शारीरिक जांच ना होना भी विभाग की कमी है जिसे आगे सुधारा जाएगा.

मामले की जांच की मांग: महिला खिलाड़ी के कुंवारी मां बनने के मामले में शिवराज सरकार में मंत्री रहे उमाशंकर गुप्ता का बयान सामने आया है. पूर्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने मामले की जांच की मांग की और कहा है कि दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए. गुप्ता ने मामले को गम्भीर बताते हुए कहा है कि खेल विभाग के संचालक खुद एक सीनियर और निष्पक्ष अधिकारी हैं ऐसे में मामले में जल्द कार्रवाई होनी चाहिए.

Share News

You May Also Like