श्री सिद्ध पीठ मातेश्वरी मंदिर जगतदेव में 625 मनोकामनाएं कलश प्रज्वलित..

श्री सिद्ध पीठ ऐतिहासिक मातेश्वरी मंदिर जगतदेव में प्रज्वलित कर 625 मनोकामनाएं कलश हुए स्थापित,

मनमोहक कलाकृतियां घंटों बैठने को बाध्य कर रही

अमरवाड़ा // नगर के हृदय स्थल जहां नगर देवी कि विगत 25 वर्ष पूर्व मात्र एक मढ़िया सी हुआ करती थी आज विशाल स्वरूप लिए हुए गर्भ गृह बना वही एक कलाकृति रूप लिए हाल बन चुका हुआ जिसमें राजस्थान के कलाकारों के द्वारा कलाकृतियां उकेरी गई हैं और उसमें प्राण रूपी रंग भरा है देवी भक्त प्रकाश पेंटर ने गर्भ ग्रह के सामने ऊपर छत पर श्री देवी यंत्र अंकित करने में प्रकाश पेंटर ने अद्भुत कलाकृति की है। दूर-दूर के श्रद्धालु रखते हैं मनोकामनाएं कलश- मंदिर के पुजारी लक्ष्मी भूरी पंडा ने बताया है इस नवरात्रि पर नगर जिला प्रदेश से एवं अन्य प्रदेशों के भक्तों ने मनोकामना कलश की स्थापना कराई है जिसमें घी एवम् तेल के कलश विराजित किए गए हैं

होती है भक्तों की मनोकामनाएं पूर्ण – मान्यता है यहां मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं भक्त मनोकामनाएं ज्योति कलश रखते हैं पंचमी एवं अष्टमी में होती है महा आरती- पंचमी एवं अष्टमी तिथि को रात्रि में महाआरती जब होती है तब हजारों हजार की संख्या में भक्तजन महिलाएं पुरुष बालक-बालिकाएं आरती में भाग लेंगी पूरा मंदिर परिक्षेत्र रोशनी से जगमगा गया है

वर्षभर प्रतिदिन दोनों समय भजन संगीत  के साथ होती है आरती- आरती प्रतिदिन सुबह 6:20 बजे आरती वर्षभर की जाती है राम धुन समिति आरती पश्चात भजन कीर्तन करते हैं

मंदिर का शिखर सफेद झिलमिल रोशनी से जगमग  रहा है रात्रि में भी वर्षभर प्रतिदिन रात्रि के 7:00 बजे आरती होती है तत्पश्चात नारायण मास्टर भक्त अपने साथियों के साथ भक्ति पूर्वक घंटों भजन प्रस्तुत करते हैं

अन्य देवी देवताओं की प्रतिमा भी है स्थापित –पूर्वी दिशा का गेट अत्यंत ही मनभावन है यहां मंदिर मैं अन्य देवी देवताओं के मंदिर भी हैं मंदिर के बाजू में खाली प्रांगण में विशालकाय भवन बनवाया जा रहा है जिसमें प्रवचन तथा जवारे सुव्यवस्थित स्थापित किए जाएंगे

निकलती है विशाल कलश शोभायात्रा – नवमी दिवस पर 11:00 बजे जवारे एवं कलश विसर्जन पर अपार भीड़ रहती है जो मार्गो में नहीं बन पाती।

                                                                                                                                                      (देवेंद्र कुमार जैन पत्रकार)

Share News

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.