उम्मीदवार के लिए सोशल मीडिया की अनिवार्यता….

साल के अंत में होने बाले चुनावो को लेकर कांग्रेस पार्टी प्रचार के हरएक प्लेटफार्म को चुनावी हथियार के रूप में इस्तेमाल करने से चूकना नही चाहती है और ख़ासकर सोशल मीडिया की अनिवार्यता कर दी है ! प्रदेश कांग्रेस कमेटी से कल बकायदा फरमान जारी किया गया है !  फेसबुक, ट्विटर जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर तावड़तोड़ युद्ध की तरह प्रचार जारी रखने के दिशा निर्देश दिए गये है । दोनों ही पार्टियां सोशल मीडिया पर सक्रिय है। वहीं कांग्रेस प्रत्याशी चयन में बुरी तरह उलझी कांग्रेस ने तय किया है कि विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी चयन के लिए सोशल मीडिया पर सक्रियता का भी आंकलन होगा। दावेदारों का फेसबुक पेज होना अनिवार्य है और इस पेज पर कम से कम 15 हजार लाइक्स होने भी जरूरी है| इसके साथ में ट्वीटर पेज भी अनिवार्य है पांच हजार फॉलोअर्स भी होना जरूरी है। पार्टी के इस फरमान के बाद दावेदारों में हलचल है

कांग्रेस आईटी सेल ने निर्देश दिए हैं कि दावेदार सोशल मीडिया पर सक्रिय रहे हैं। फेसबुक पर 15 हजार लाइक्स और जबकि ट्विटर पर पांच हज़ार फॉलोअर्स होने चाहिए, इसके आलावा व्हाट्सएप के ग्रुप भी होने चाहिए जिसमें बूथ लेवल के कार्यकर्ता जुड़े हों। इसके लिए प्रत्याशियों को 15 सितंबर तक का समय दिया गया है। इन 12  दिनों में दावेदारों को अपने फॉलोअर्स बढ़ाने होंगें और अपनी रिपोर्ट पार्टी को सौंपनी होगी। इसके बाद पार्टी अपना फैसला सुनाएगी और प्रत्याशिय़ों की घोषणा करेगी। इसके अलावा जारी फरमान में कहा गया है कि कांग्रेस पार्टी सोशल मीडिया की मजबूती की दिशा में कई बड़े कदम उठा रही है।इसलिए टिकट की दावेदारों के लिए सोशल मीडिया पर सक्रियता को अनिवार्य किया गया है।

ज्ञात हो कि कांग्रेस इस बार सत्ता में आने के लिए कोई जोखम नही लेना चाहती। सड़क से लेकर सोशल मीडिया तक कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ जनता के बीच अपनी पकड़ बनाने में जुटी हुई है , इसकी बानगी प्रदेशध्यक्ष कमलनाथ कांग्रेस को प्रदेश में पुनर्स्थापित करने के लिए दिन रात एक कर रहे है !

सोशल मीडिया ही ऐसा माध्यम से जिससे कांग्रेस सीधे कार्यकर्ताओं और जनता से जुड़ सकती है। इसलिए कांग्रेस ने ये दांव खेला है, ताकी कांग्रेस की आईटी सेल भी मजबूत हो सके और टिकट का सही दावेदार भी सामने आये जिससे कोई विरोध की स्थिति न बने।

Share News

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.