जो शिकायत करे उसे गोली से उड़ा दो, ये है नया भारत….

महाराष्ट्र पुलिस ने आज देश के अलग-अलग हिस्सों में छापेमारी की और माओवादी समर्थक 5 एक्टिविस्ट्स को गिरफ्तार कर लिया. इनमें सुधा भारद्वाज, अरुण फेरीरा, वर्नान गोनजाल्विज, गौतम नवलखा और वरवर राव शामिल हैं. हालांकि गौतम नवलखा की गिरफ्तारी पर कोर्ट ने एक दिन की रोक लगा दी..

 महाराष्ट्र पुलिस द्वारा मंगलवार को कथित तौर पर माओवादियों से सहानुभूति रखने वाले करीब 5 एक्टिविस्ट्स को गिरफ्तार करने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने RSS और BJP पर हमला बोला है. आधिकारिक ट्विटर हैंडल से राहुल ने लिखा, भारत में सिर्फ एक ही एनजीओ की जगह है, वह है RSS. बाकी सभी एनजीओ को बंद कर दो. सभी एक्टिविस्ट्स को जेल में भर दो. जो शिकायत करे उसे गोली मार दो. नए भारत में स्वागत है. जिन एक्टिविस्ट्स को गिरफ्तार किया गया है उनमें सुधा भारद्वाज, अरुण फेरीरा, वर्नान गोनजाल्विज, गौतम नवलखा और वरवर राव शामिल हैं. पुलिस ने कहा कि उनकी गिरफ्तारी का संबंध प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश मामले से है.

पुणे पुलिस ने जून में कथित तौर पर पांच लोगों में से एक व्यक्ति के घर से मोदी की हत्या की साजिश के जिक्र वाला एक पत्र बरामद किया था. इन पांचों लोगों को भीमा कोरेगांव हिंसा से जुड़े मामले में गिरफ्तार किया गया था. बरामद पत्र में कथित तौर पर प्रधानमंत्री की हत्या पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की तर्ज पर करने की बात कही गई है.

इस पत्र को लिखने वाले व्यक्ति की पहचान सिर्फ ‘आर’ के रूप में की गई. इसमें साजिश को अंजाम देने के लिए एक एम-4 राइफल व चार लाख चक्र कारतूस खरीदने के लिए आठ करोड़ रुपये की जरूरत का जिक्र किया गया था. कहा जा रहा है कि इस पत्र में वरवर राव का नाम धन का इंतजाम करने वाले के रूप में शामिल है.

वहीं सुधा भारद्वाज पर अलग-अलग संगठनों और धर्मों के बीच दुश्मनी फैलाने को लेकर उन पर आईपीसी की धारा 153ए, 505, 117 और 120 के तहत मामला दर्ज किया गया है. हालांकि कोर्ट ने गौतम नवलखा की गिरफ्तारी पर एक दिन की रोक लगा दी है. बुधवार को इस मामले पर सुनवाई की जाएगी. पुलिस ने मंगलवार को 5 राज्यों में 8 जगहों पर छापेमारी की. साथ ही गिरफ्तार किए गए लोगों के घरों में भी रेड डाली गई है.

Share News

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.