2019 में त्रिशंकु लोकसभा के आसार, बीजेपी और नरेंद्र मोदी को बहुमत नहीं..

 लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर ओपिनियन पोल किया है जिसके नतीजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के लिए चिंता का सबब हो सकता है. सर्वे में कहा गया है कि 2019 में त्रिशंकु लोकसभा बन सकती है जिसमें किसी पार्टी के पास अकेले खुद का बहुमत नहीं होगा और अन्य पार्टियों या गठबंधन के साथ सरकार बनाना उनकी मजबूरी होगी. बीजेपी को सीटों का भारी नुकसान दिखाया गया है लेकिन मोदी और शाह के लिए इत्मीनान की बात ये है कि एनडीए को 281 सीटों के साथ सरकार बनाता दिखाया गया है. नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री पद के लिए देशकी पहली पसंद बने हुए हैं और राहुल गांधी से उनका मार्जिन काफी बड़ा है..

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह के लिए राज्यों के विधानसभा चुनाव और लोकसभा चुनाव 2019 से पहले हो रहे सर्वेक्षण जिनको ओपिनियन पोल भी कहते हैं, उनसे अच्छी खबरें नहीं आ रही हैं. कार्वी इनसाइट्स और इंडिया टुडे के सर्वे में 2019 के लोकसभा चुनाव में त्रिशंकु लोकसभा का अंदेशा जाहिर किया है और अनुमान लगाया गया है कि बीजेपी करीब 80 सीटों के नुकसान के साथ बहुमत से दूर हो सकती है. सर्वे में कहा गया है कि बीजेपी को 245 सीट समेत एनडीए को 281 सीटें मिल सकती हैं यानी बीजेपी को अकेले दम पर बहुमत नहीं मिलेगा जैसा 2014 में हुआ और उसे सरकार बनाने के लिए एनडीए के सहयोगी पार्टियों के समर्थन की जरूरत पड़ेगी. इससे पहले एबीपी न्यूज के सर्वे में मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में बीजेपी की हार और कांग्रेस की सरकार बनने का अनुमान लगाया गया था.

कार्वी इनसाइट्स-इंडिया टुडे के सर्वे में कांग्रेस को 83 और उसकी अगुवाई वाले यूपीए को 122 सीटें मिलती दिखाई गई हैं जबकि अन्य पार्टियां जो ना एनडीए का हिस्सा हैं और ना यूपीए का, उनको 140 सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया है. सर्वे में एनडीए को 36 परसेंट और यूपीए को 31 परसेंट और अन्य पार्टियों को 33 परसेंट वोट का अनुमान है. इसे दूसरी तरह से ऐसे देखें कि 2019 में सत्ता की चाबी अन्य दलों के पास हो सकती है क्योंकि बीजेपी 245 सीट लाकर भी बहुमत से दूर रह सकती है जबकि कांग्रेस 83 सीटों के साथ कहीं सीन में नहीं होगी. अन्य पार्टियों के पास 215 सीटें होंगी जिनमें कुछ एनडीए और कुछ यूपीए का हिस्सा भी हैं और कुछ दोनों से बाहर.

कार्वी इनसाइट्स-इंडिया टुडे ने प्रधानमंत्री पद के लिए भी लोगों का ओपिनियन लिया है. नरेंद्र मोदी आज भी प्रधानमंत्री पद के लिए देश की सबसे बड़ी पसंद बने हुए हैं. 49 फीसदी लोगों की पहली पसंद मोदी हैं. 27 फीसदी लोग राहुल गांधी को पीएम पद के लिए बेहतर विकल्प मानते हैं. 8 फीसदी की पसंद ममता बनर्जी हैं तो 4 प्रतिशत की पसंद अखिलेश यादव.

Share News

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.