जो हम पर गुजरी, बच्चों पर न होने देंगे, जंग न होने देंगे…सय्यद अली जफर

पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान पीएम नरेंद्र मोदी के साथ जल्द मुलाकात कर सकते हैं. ये मुलाकात सितंबर में तजकिस्तान के दशानबे में एससीओ समिट में संभव है.

 पाकिस्तान के 22वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लेने वाले इमरान खान बहुत जल्द प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर सकते हैं. ये मुलाकात सितंबर में तजकिस्तान के दशानबे में एससीओ समिट में संभव है. पाकिस्तान में प्रमुख राजनयिक स्रोत के अनुसार पाकिस्तान में सार्क शिखर सम्मेलन के लिए इस्लामाबाद अपनी पिच तैयार करने में जुटा है. पाक सरकार ने शुक्रवार को पाकिस्तान के कानून और जानकारी मंत्री सय्यद अली जफर के नेतृत्व वाले प्रतिनिधिमंडल को भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के अंतिम संस्कार में हिस्सा लेने के लिए भेजा था. पाकिस्तान के मंत्रियों ने अंतिम संस्कार के बाद भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के साथ बैठक भी की. मंत्री सय्यद अली जफर ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि मैं आपको बताना चाहता हूं कि अटल जी के निधन पर पाकिसेतान के लोगों को दुख है और हम उम्मीद करते हैं कि जम्मू कश्मीर विवाद समेत हमारे बीच के सभी झगड़े शांतिपूर्वक खत्म हो जाएं

सूत्रों के मुताबित जफर ने सुषमा स्वराज के साथ बैठक में वाजपेयी की एक कविता भी पढ़ी. कविता थी- ‘जंग न होने देंगे, जंग न होने देंगे, भारत पाकिस्तान पड़ोसी साथ साथ रहना है…प्यार करें या वार करें दोनों को ही सहना है… जो हम पर गुजरी, बच्चों परन होने देंगे, जंग न होने देंगे…’ वहीं आज पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लेने वाले क्रिकेटर से राजनेता बने इमरान खान  भी भारत के साथ बातचीत का प्रस्ताव रख चुके हैं.

Share News

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.