मैं गृहमंत्री होता तो बुद्धिजीवियों को गोलीयों से मरवा देता……

कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी (BJP) से विधायक बसानगौड़ा पाटिल यतनाल​ एक बार फिर अपने विवादित बयान को लेकर चर्चा में हैं. इस बार उनके निशाने पर देश के बुद्धिजीवी थे. गुरुवार को कारगिल दिवस के अवसर पर एक कार्यक्रम में पहुंचे यतनाल ने कहा कि अगर मैं गृहमंत्री होता तो बुद्धिजीवियों को गोली मारने का आदेश जारी कर देता.

कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के विधायक बसानगौड़ा पाटिल यतनाल​  का विवादित बयान सामने आया है. बीजेपी नेता यतनाल​ ने कहा है कि अगर वह गृहमंत्री होते तो बुद्धिजीवियों को गोली मारने का आदेश जारी कर देता. इसके साथ-साथ उन्होंने बुद्धजीवियो और उदारवादियों को राष्ट्रदोही भी करार दिया है. दरअसल गुरुवार को कारगिल दिवस के अवसर पर एक कार्यक्रम आयोजित किया गया था जिसमें यतनाल अतिथि के रूप में शामिल हुए थे.

वहां अपने भाषण में पाटिल यतनाल ने कहा कि बुद्धिजीवी देश की सारी सुविधाओं का इस्तेमाल करते हैं जिसके लिए हम टैक्स देते हैं. इसके बाद भी ये सब बुद्धिजीवी सेना के खिलाफ के खिलाफ नारेबाजी करते हैं. पाटिल यतनाल ने कहा कि इस समय देश को अगर सबसे ज्यादा खतरा किसी से हैं तो वो बुद्धिजीवियों और धर्मनिरपेक्षों से है. बता दें कि पाटिल यतनाल का यह पहला विवादित बयान नहीं इससे पहले भी उन्होंने पार्षदों से अपील करते हुए कहा था कि वह मुस्लिमों की मदद ना करें.

पाटिल यतनाल 1994 और 1 999 के बीच बीजेपी विधायक थे. इसके बाद 1999 से लेकर 2009 तक सांसद भी रहे. अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में यतनाल वस्त्र और रेलवे राज्य मंत्री भी रहे. लेकिन 2010 में यतनाल ने बीजेपी से मुहं मोड़ते हुए जनता दल (सेक्युलर) में शामिल हो गए. लेकिन एक साल बाद ही यतनाल ने जेडीएस को भी छोड़ दिया और स्वतंत्र एमएलसी बन गए. इसके बाद साल 2013 में उन्होंने एक बार फिर बीजेपी की दामन पकड़ लिया.

बसानगौड़ा पाटिल यतनाल को कर्नाटक बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा का करीबी भी माना जाता है. यतनाल के इस विवादित बयान के बाद कर्नाटक में कांग्रेस के नेताओं ने आपत्ति जताते हुए कहा कि बीजेपी नेता समाज में बेईमानी और घृणा पैदा करने के लिए इस तरह के लिए विवादित और हिंसक बयान दे रहे हैं.कांग्रेस नेताओं ने कहा कि वास्तव में बीजेपी के मानसिकता ही यही है.

Share News

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.