प्राइवेट पार्ट काटकर नपुंसक बनाने बाली बिजली बाई गिरफ्तार….

दिल्ली पुलिस ने बिजली बाई नाम की एक किन्नर को गिरफ्तार किया है जो लोगों के प्राइवेट पार्ट काटकर नपुंसक बनाने का काम करती थी और फिर उन्हें अपने गैंग में शामिल कर लेती थी. अभी तक बिजली बाई ने 4 लोगों के प्राइवेट पार्ट काटकर उन्हें नपुंसक बनाया है. पुलिस बिजली बाई से पूछताछ कर ही है.

दिल्ली पुलिस ने एक ऐसी किन्नर को गिरफ्तार किया है जो लोगों के प्राइवेट पार्ट काटकर उनको अपने गैंग में शामिल करने का काम रही थी. अब तक इस किन्नर ने 4 लोगों के प्राइवेट पार्ट काटे हैं और उनको अपने गैंग में शामिल किया है. मामला दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके का है. ये किन्नर सड़कों पर काम करने वाले लोगों को अपना निशाना बनाती थी और उनका प्राइवेट पार्ट काटकर उनको नपुंसक बना देती थी. इस किन्नर का नाम बिजली बाई है.

37 साल की बिजली बाई गाजियाबाद के लोनी इलाके की रहने वाली है. वो जन्म से किन्नर है. पर जैसे ही बिजली बाई ने होश संभाला अपने पेशे के साथ-साथ जुर्म की दुनिया में भी कदम रख दिया. उसके बाद बिजली बाई ने लूटपाट, हत्या का प्रयास, अपहरण जैसी वारदातों को अंजाम दिया. क्राइम ब्रांच के अधिकारियों के मुताबिक बिजली बाई ने दिल्ली के गरीब, मेहनत मजदूरी करने वाले लोगों को अपना शिकार बनाया और फिर उन्हें नपुंसक बनाकर अपने गैंग में शामिल करने का काम किया. ये सब बिजली ने अपना किन्नरों का कुनबा बढ़ाने के लिए किया.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक बिजली ने लोगों को अगवा कर जबरन एक डॉक्टर की मदद से सर्जरी करवाकर उनके निजी अंग को कटवा दिया और उन्हें नपुंसक बनाकर किन्नरों की जमात में शामिल कर लिया. बिजली अपने किन्नरों के गैंग में इजाफा करने के लिए गरीब लोगों को अपना शिकार बनाती थी जिससे जितना बड़ा बिजली का किन्नर ग्रुप होगा, शादी समारोह और दूसरे आयोजनों में जाकर उतनी ही आय भी बढ़ जाएगी.

बाहरी दिल्ली में सक्रिय बिजली के किन्नर गैंग की सरगना पुष्पा है. ये गैंग रोहिणी इलाके के किन्नर गैंग से बड़ा कुनबा बनाने के लिए बिजली गैंग लोगों को नपुंसक बनाकर किन्नर बनाने वाला हैवानियत का काम कर रहा था. रोहिणी इलाके के किन्नर गैंग का मुखिया सुभाष है. बिजली दिल्ली पुलिस की एक वांटेड अपराधी थी और कोर्ट ने उसे भगोड़ा घोषित कर रखा था. पुलिस बिजली को रिमांड पर लेकर उससे पूछताछ कर रही है. उसके गैंग के और लोगों की तलाश भी की जा रही है. उन डॉक्टर्स का भी पता लगाया जा रहा है जो नपुंसक बनाने का काम करते थे.

Share News

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.