15 दिन में रोपे जाएंगे,आठ करोड़ पौधे….

इनमें से सात करोड़ पौधे वन विभाग खुद रोपेगा, जबकि एक करोड़ पौधे स्कूल शिक्षा, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, उद्यानिकी आदि विभाग लगाएंगे

 वन विभाग इस साल प्रदेश में आठ करोड़ पौधे रोपकर नया रिकॉर्ड बनाएगा। हालांकि यह रिकॉर्ड गिनीज बुक में दर्ज नहीं होगा। क्योंकि इतने पौधे 15 दिन में रोपे जाएंगे। इनमें से सात करोड़ पौधे वन विभाग खुद रोपेगा, जबकि एक करोड़ पौधे स्कूल शिक्षा, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, उद्यानिकी आदि विभाग लगाएंगे। वन विभाग ने अपनी सभी नर्सरी में नौ करोड़ पौधे तैयार कर लिए हैं। सरकार 15 से 30 जुलाई तक पौधारोपण अभियान चलाएगी। इस दौरान पूरे प्रदेश में आठ करोड़ पौधे रोपे जाएंगे। सबसे ज्यादा सात करोड़ पौधे वन विभाग रोपेगा। जबकि पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग 60 लाख और स्कूल शिक्षा विभाग करीब 30 लाख पौधे रोपेगा।

सभी विभागों को पौधे वन विभाग से लेने के निर्देश हैं। इस संबंध में स्कूल शिक्षा विभाग ने मैदानी अधिकारियों को निर्देश जारी कर दिए हैं। जबकि पंचायत विभाग के अफसरों का कहना है कि वन विभाग या उद्यानिकी विभाग द्वारा बनाई गई व्यवस्था के तहत पौधों का इंतजाम किया जाएगा।

मैदानी तैयारी अंतिम चरण में : पौधारोपण के लिए वन विभाग की मैदानी तैयारी अंतिम चरण में है। विभाग के मैदानी अफसरों ने पौधारोपण की साइट तय कर ली हैं और गड्ढे भी खोद लिए गए हैं। जबकि कुछ जिलों में गड्ढे खोदे भी जा रहे हैं। विभाग की नर्सरी आसपास के क्षेत्र में पौधे उपलब्ध कराएगी।

गिनीज बुक से अनुरोध करेगी सरकार : सूत्रों के मुताबिक सरकार पिछली साल कराए गए पौधारोपण का रिकॉर्ड गिनीज बुक में दर्ज कराने को लेकर एक बार फिर संस्था से अनुरोध करेगी। नियम अनुसार संस्था एक साल के अंदर रिकॉर्ड दर्ज करती है और पिछले साल के पौधारोपण को एक जुलाई को एक साल पूरा हो गया है। ज्ञात हो कि पिछली साल प्रदेश में एक साथ सात करोड़ पौधे रोपे गए थे।

पौधों की कोई कमी नहीं है। हम दूसरे विभागों को भी पौधे उपलब्ध कराएंगे। मैदानी स्तर पर भी पौधारोपण की तैयारी पूरी है। -डॉ. पीसी दुबे एपीसीसीएफ, अनुसंधान एवं विस्तार–

Share News

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *