जनजातीय संस्कृति पर आधारित नृत्यों की धूम

आदिरंग के तीसरे दिन भी जनजातीय संस्कृति पर आधारित नृत्यों की रही धूम
बैतूल // जिले में आदिम जाति अनुसंधान विकास संस्थाभोपाल एवं वन्या जनजातीय कार्य विभाग के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित जनजातीय नृत्य-संगीत एवं शिल्प कलाओं पर केन्द्रित तीन दिवसीय उत्सव आदिरंग-2018 के तीसरे दिन विभिन्न जिलों से आए जनजातीय कलाकारों ने अपनी प्रस्तुतियां दीं। इस तीन दिवसीय कार्यक्रम का समापन जिला पंचायत अध्यक्ष श्री सूरजलाल जावलकर कलेक्टर श्री शशांक मिश्र, नगर पालिका अध्यक्ष श्री अलकेश आर्य एवं उपाध्यक्ष श्री नरेश फाटे द्वारा किया गया। कार्यक्रम में मण्डला जिले के श्री राजीव मिश्रा के दल द्वारा बैगा नृत्य, डिण्डोरी जिले की श्रीमती कलीबाई द्वारा पंडवानी प्रसंग का गायन, बैतूल जिले के श्री बसंत कवड़े द्वारा डंडार नृत्य, श्योपुर जिले के श्री रामलाल सेमरिया द्वारा सहरिया नृत्य एवं झाबुआ जिले की श्रीमती मंगला गरवाल द्वारा भील नृत्य की प्रस्तुति दी गई। इस दौरान अतिथियों द्वारा आदिरंग महोत्सव में भाग लेने वाले कलाकारों को प्रशस्ति पत्र भी प्रदान किए गए . कार्यक्रम का संचालन श्री डीडी उइके एवं श्रीमती कृष्णा हजारे द्वारा किया गया। इस दौरान आदिम जाति अनुसंधान विकास संस्था भोपाल के संयुक्त संचालक श्री नीतिराज सिंह, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास श्री बीएस बिसौरिया सहित बड़ी संख्या में दर्शक मौजूद थे।आदिवासी बालक छात्रावास के बालकों ने दी ठाठिया नृत्य की प्रस्तुति 

Share News

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *