4 साल की बेटी का गला काटकर किया हलाल….

 देर रात बेटी को नींद से उठाकर कलमा पढ़ाया और फिर उसे कुर्बान कर दिया…. 

राजस्थान के शहर जोधपुर से दिल दहला  देने वाली खबर सामने आई है. जहां एक पिता ने रमजान के पवित्र माह में अल्लाह को खुश करने के लिए 4 साल की बेटी की हत्या कर कुर्बानी का नाम दिया. ये मामला जोधपुर में आग की तरह फैल गया. इस मामले में कार्रवाई करने के बाद हत्यारे पिता को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने जब सख्ती बरती तो हत्यारे ने अपना जुर्म कबूल किया.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पीपाड़ शहर के नवाब अली कुरैशी पत्नी शबाना और दो बेटियों के साथ घर की छत पर सोया था. रात को ही उसने बेटी की गला रेंत कर हत्या कर दी. देर रात जब पत्नी उठी और उसने देखा कि 4 वर्षीय बेटी उसके पास नहीं है. उसने इधर-उधर देखा तो छत पर ही खून से सनी बेटी पर नजर पड़ी. इस मामले की रिपोर्ट पत्नी ने पुलिस में करवाई. जिसके बाद पुलिस ने केस दर्ज किया.

पुलिस की टीम ने घटना स्थल पर पहुंच कर सभी सबूतों को इकट्ठा और बारीकी से जांच की जिसके बाद पुलिस को ज्ञात हुआ कि घर में कोई भी बाहरी शख्स घुसा ही नहीं है. इस मामले में फोरेंसिक जांच हुई तो शक पर पुलिस ने पिता से पूछताछ करना शुरू किया. पुलिस ने जब सख्ती बरती तो आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया. हत्यारे पिता ने पुलिस को बताया कि उसी ने ही गुरुवार को अपनी बेटी गला रेत कर हत्या कर दी थी.

पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह रमजान के माह में उसने अपनी बेटी की कुर्बानी दी. इस पाक माह में अगर अल्लाह को अपनी खास चीज कुर्बान करों तो अल्लाह खुश होता है. आरोपी ने कहा कि मासूम उसकी जिंदगी की प्यारी थी. दोषी ने बताया कि उसने गुरुवार को उसने पत्नी और बेटियों को ननिहाल से बुलाया और देर रात बेटी को नींद से उठाकर कलमा पढ़ाया और फिर उसे कुर्बान कर दिया.

साभार :- इनखबर टीम

Share News

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.