सागर जैन, उप पंजीयक परसराम साहू दस्तावेज लेखक सहित फर्जीवाड़े मे लिप्त लोगों के विरुद्ध अपराधिक प्रकरण दर्ज हो – प्रजापति

*सागर जैन, उप पंजीयक परसराम साहू दस्तावेज लेखक सहित फर्जीवाड़े मे लिप्त लोगों के विरुद्ध अपराधिक प्रकरण दर्ज हो – प्रजापति ।*
सागर जैन द्वारा चौरई तहसील के ग्राम बीजवाडा के पटवारी हल्का नम्बर 22 जो की राजस्व निरिक्षक नम्बर तहसील चौरई के खसरा क्रमांक 543 की भूमि जिसका खसरा क्रमांक 509/1,509/2,509/4,510/2,510/3 जो की परसराम साहू, निरोत्तम साहू ऐवं मोहित साहू को विक्रय की गयी है। इसके विक्रय पत्र निस्पादन में राजस्व शुल्क की चोरी की गयी है और सागर जैन द्वारा सरकारी रिकॉर्ड में तत्कालीन पटवारी की मिली भगत से पाव्ती में 1 ऐकड जमीन अधिक दर्ज करा कर परसराम साहू के साथ धोखाधड़ी की गयी थी और इसका इकरारनामा 40 लाख रुपय मूल्य का टाइप करवा कर उसे पन्जियत नही कराया गया और 1 लाख रूपया सागर जैन द्वारा परसराम साहू से नगद विक्रय पत्र इकरारनामा के ऐवज में प्राप्त कर लिया गया और उस भूमि का 30-06-2017 तक रजिस्ट्री नही की गयी बाद में जब परसराम साहू को येह पता चला की उसके साथ सागर जैन ने धोखाधड़ी की है और जिस जमीन का सौदा किया गया है वह पव्ती में दर्शाये गये रक्वे से लगभग 1 एकड़ कम है। जब उसने सागर जैन को यह जानकारी दी तो सागर जैन ने उसका 1 लाख रुपय वापस नही करते हुये उसे परेशान करना शुरु कर दिया। बाद मे सागर जैन ने दस्तावेज लेखक प्रमोद पान्डे के साथ मिलकर उसी विक्रय पत्र के पीछे 1 संशोधित इकरारनामा टाइप करवा कर दिनन्क 30-10-2017 तक रजिसट्रि करने का उल्लेख किया था परन्तु सागर जैन द्वारा पव्ती में वास्तविक रक्वे को जिसे वर्तमान पटवारी ने दुरुस्त किया था मानने से इन्कार कर दिया और परसराम साहू को जमीन की रजिस्ट्रि करने से मना कर दिया और 1 लाख रुपय जो बयाने के तौर पर लिये थे वह भी वापस करने से मना कर दिया । जब इस आशय की जानकारी परसराम साहू ने हिंद मजदूर किसान पंचायत को दी तब युनियन के हस्त्चेप से सागर जैन ने दिनांक 28-11-2017 को उस भूमि की रजिस्ट्री तीन भागो मे कर दी। इसकी जानकारी उप पंजीयक को होने के बाद भी उप पंजीयक ने भ्रश्टाचार कर राजस्व शुल्क की चोरी करवायी । वास्तव मे इस प्रकरण मे 10 लाख रुपयो पर लगने वली आयकर की भी चोरी की गयी है इसलिये इस पूरे प्रकरण मे सागर जैन द्वारा परसराम साहू और उसके परिवार के सदस्यो के नाम विक्रय की गयी उक्त भूमि की रजिस्ट्री निरस्त कर फर्जीवाडे के विरुद्ध सागर जैन, परसराम साहू, निरोत्तम साहू, मोहित साहू दस्तावेज लेखक एवं उप पंजीयक चौराई के विरुद्ध अपराधिक प्रकरण दर्ज करने की मांग हिंद मजदूर किसान पंचायत मध्यप्रदेश के महासचिव डीके प्रजापति ने की है।

Share News

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *