अब तक मिली जानकारी के मुताबिक कुशीनगर के डिवाइन मिशन स्कूल की वैन आज सुबह बच्चों को स्कूल लेकर जा रही थी. जिसमें 22 सवार थे. दुदही रेलवे क्रासिंग (मानव रहित) पर पहुंचते ही ड्राइवर ने पटरी क्रास करने लगा तभी वहां थावे-बढ़नी पैसेंजर ट्रेन आ गई और उसने बच्चों से भरी वैन को अपनी चपेट में ले लिया. ट्रैन की चपेट में आते ही वैन में सवार 11 बच्चों की मौत हो गई और 8 बच्चे गंभीर रुप से घायल हो गए. जिनको गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है.

कुशीनगर में हुए इस गंभीर हादसे पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गहरा दुख जताया है. उन्होंने इस हादसे पर एक ट्वीट किया जिसमें उन्होंने लिखा, कुशीनगर जिले में हुए दुर्भाग्यपूर्ण ट्रेन दुर्घटना में स्कूली बच्चों की मृत्यु पर गहरा दुःख पंहुचा. ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति एवं परिजनों को संबल देने की प्रार्थना करता हूँ. दुर्घटना से प्रभावित लोगों के समुचित इलाज की व्यवस्था कराने व हर सम्भव मदद करने के निर्देश दिए हैं’. इसके साथ ही उन्होंने जिला प्रशासन को राहत और बचाव कार्यों में तुरंत जुट जाने के निर्देश दिए हैं. सीएम योगी ने मृतकों और घायल बच्चों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये की आर्थिक मदद की घोषणा की है.